मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म | MP Mukhyamantri Asangathit Mazdoor Kalyan Yojana in Hindi

By | May 10, 2022

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना 2022:- इस योजना की शुरुआत मध्यप्रदेश सरकार द्वारा की गयी है ताकि राज्य के मजदूर वर्ग के लोगो को सरकार द्वारा राज्य के असंगठित मजदूरों के हितो में काम किया जाएगा क्योकि बिना मजदूरों के जीवन नहीं चल सकता है व इसी सिद्धांत के साथ सरकार ने मध्य प्रदेश मजदूर कल्याण योजना की शुरुआत जिसके मजदूरों को इसका लाभ देने के लिए सरकार जगह जगह शिविर लगाकर भी मजदूर कार्ड बनवायेगी जिसमे राज्य के सभी मजदूरों को पंजीकृत करने के बाद उन्हें इस योजना के तहत अनेक लाभ दिए जायेंगे जिसकी सारे जानकारी हमें नीचे विस्तार से दे रहे |

Mukhyamantri Asangathit Mazdoor Kalyan Yojana

Mukhyamantri Asangathit Mazdoor Kalyan Yojana

यह भी पढ़े:- मध्य प्रदेश भावांतर भुगतान योजना 2022

मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको इस लेख में मध्यप्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई “मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना” के बारे में बतायेगे की योजना क्या है, इस योजना का लाभ किस किस को मिलेगा और इस योजना की पात्रता क्या तथा योजना में आवेदन कैसे करना है. योजना के बारे में पूरी जानकारी जानने के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज शिह चोहान ने राज्य के असंगठित मजदूरों के कल्याण के लिए मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना की शुरुआत की है, इस योजना के तहत राज्य के गृहकर्मी स्ट्रीट हाकर्स, मछली पकड़ने वाले श्रमिक, पत्थर तोड़ने वाले मजदूर, इट भट्टे पर कम करने वाले मजदूर, दुकानदार, गोदामों में कम करने वाले मजदूर, परिवन, हथकरघा , बिजली के सामान, सिलाई, बुनाई, कढ़ाई, लकड़ी के सामान, चमड़े के सामान और जुत्ते बनाने वाले, ओटो रिक्सा चालको, और अन्य मजदूर जो देनिक मजदूरी करते है वो सभी असंगठित मजदूर वर्ग में आते है.

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज शिह चोहान ने कहा है की राज्य के असंगठित मजदूरो और श्रमिको का राज्य की आर्थिक प्रगति में बहुत बड़ा योगदान है. और प्रदेश की शिवराज सरकार असंगठित मजदूरो और श्रमिको के कल्याण के लिए संकल्पित है. मुख्यमंत्री का कहना है की राज्य के बजट का 50% हिस्सा मजदूरों के कल्याण के लिए खर्च किया जायेगा. राज्य में मजदूरों के लिए एतिहासिक और क्रन्तिकारी विकास के लिए मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना बनाई गई है.

यह भी पढ़े:- मध्यप्रदेश शौचालय निर्माण योजना 2022

मध्य प्रदेश असंगठित मजदूर कल्याण योजना क्या है ?

मध्य प्रदेश सरकार ने तय किया है कि इस योजना में सरकार मजदूरों के जीवन को एक दिशा प्रदान करने लिए सरकारी खजाने का 50% बजट मजदूरों के लिए खर्च करेगी | इस योजना में लोगो को मजदूरे कार्ड बनवाना होगा जिसके तहत केवल उन्हें ये बताना है कि वो कोई सरकारी नौकरी नहीं करते है और ना ही सरकार को कर का भुगतान करते है इसके अलावा उनके पास ढाई एकड़ से ज्यादा जमीन भी नहीं है

मुख्यमंत्री शिवराज शिह चोहान ने इस योजना का विशेष लाभ महिला मजदूरों को देते हुये कहा है की राज्य की मजदूर बहनों को प्रसूति के लिए छह से नो महीनों में 4 हजार रूपये सीधे उनके खाते में ट्रान्सफर किये जायेगे और प्रसव के बाद उन्हें बारह हजार रूपये दिए जायेगे ताकि वो अपनी और अपने बच्चे की अच्छी तरह से देखभाल कर सके.

यह भी पढ़े:- मध्य प्रदेश महा आयुष्मान योजना 2022

मध्य प्रदेश असंगठित मजदूर कल्याण योजना में किनको शामिल किया गया है ?

मध्य प्रदेश मजदूर कल्याण योजना के अंतर्गत राज्य के श्रमिक, दिहाड़ी मजूरी करने वाले, ठेला लगाने वाले, कंस्ट्रक्शन साईट पर काम करने वाले, चोकीदार, पत्थर तोड़ने वाले, मछली पकड़ने वाले, पेंटिंग करने वाले, सिलाई बुनाई करने वाले लोग, लकड़ी का सामान बनाने वाले, चमड़े का सामान बनाने वाले, पटाखे बनाने वाले, जूते बनाने वाले, गृह्कर्मी, फेरी वाली, सुथार इत्यादि प्रकार के मजदूरो को इस योजना का लाभ दिया जाएगा |

यह भी पढ़े:- मुख्यमंत्री ग्रामीण स्ट्रीट वेंडर ऋण योजना 2022

मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना के लाभ

श्रमिको में महिलाओ को प्रसव के दौरान उनकी मदद के लिए लिए 14 हजार रूपये की आर्थिक सहायता दी जायेगी और इसके अलावा प्रसव के दौरान 12 हजार रूपये उनकी डिलीवरी होने के बाद दिए जायेंगे ताकि वो अपने बच्चे की अच्छे से देखभाल कर सके |

मजदूरों के बिजली के बिल में दो सौ रूपये का डिस्काउंट हर महीने दिया जाएगा |

और आकस्मिक या किसी दुर्घटना में अचानक म्रत्यु हो जाने पर सरकार मजदूरों को 2 लाख रूपये तक का बीमा कवर भी प्रदान करेगी |

इसके अलावा महुआ के फूल 30 रूपये प्रति किलो के हिसाब से खरीदे जायेंगे व इन सबके अलावा भी बहत सारे लाभ इस योजना से मजदूरों को दिए जाएंगे जिसकी सारी जानकारी आपको ऑफिसियल वेबसाइट पर मिल जायेगी |

यह भी पढ़े:- मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना 2022

मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना के जरूरी पात्रता शर्ते

आवेदक की उम्र 18 से 60 साल के बीच होना अनिवार्य है तभी वो इस योजना के लिए आवेदन कर पायेंगे |

इसके अलावा इस योजना का लाभ लेने के लिए उसे एमपी में एक मजदूर के रूप में कार्य करना होगा |

यह भी पढ़े:- मध्यप्रदेश कृषि यंत्र अनुदान योजना 2022

मध्य प्रदेश असंगठित मजदूर कल्याण योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

मजदूर कार्ड

राशन कार्ड

आधार कार्ड

मूल निवास प्रमाण पत्र

पहचान पत्र

पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ व मोबाइल नंबर इत्यादि |

यह भी पढ़े:- मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कन्या अभिभावक पेंशन योजना 2022

मध्य प्रदेश असंगठित मजदूर कल्याण योजना के लिए आवेदन कैसे करे ?

मध्य प्रदेश मजदूर कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए आपको मजदूर कार्ड बनवाने के अलावा श्रम विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट http://shramsewa.mp.gov.in/hi-in/ पर विजिट करना होगा

यहाँ पर आपको  मध्य प्रदेश मजदूर कल्याण योजना का आवेदन का आप्शन मिलेगा

इस पर क्लिक करने से आपके सामने योजना का आवेदन पत्र खुल जायगा

जिसमें मागी गयी सारी जानकारी को भरकर व दस्तावेजो को अटेच करके आपको फार्म को सबमिट करना है

उसके बाद आपक डॉक्यूमेंट के विभागीय सत्यापन होगा जिसकी जानकारी आपको ईमेल के माध्यम से सूचना कर दी जायेगी |

यह भी पढ़े:- मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजना 2022

सभी प्रकार की Govt Yojana से जुड़ी ताज़ा जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज को फॉलो करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.